2013 सफलतापूर्वक आईपीएल मैचों की मेजबानी की भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने निरीक्षण और कुछ बैठकों के बाद दिल्ली डेयरडेविल्स को आईपीएल में उनके घर से दो मैच की मेजबानी करने की घोषणा की, और फरवरी में लोक निर्माण विभाग ने बहुत ही कम समय में स्टेडियम को मैच के लिए पूरा कर दिया, दो महीने से भी कम समय में इंटीरियर का काम पूरा कर लिया.

सिरपुर, पचराही, महेषपुर, मदकूद्वीप आदि महत्वपूर्ण पुरातात्विक केन्द्रों में उत्चानन कराया गया। वर्ष 2012-13 में राजिम, जिला गरियाबंद तथा तरीघाट, जिला दुर्ग के उत्खनन की अनुज्ञप्ति केन्द्र सरकार से प्राप्त हुई तथा 45 तहसीलों और 7 विषय आधारित सर्वेक्षण कराए गए।

छत्तीसगढ़ पर्यटन के प्रचार-प्रसार हेतु ख्याति प्राप्त पर्यटन से संबंधित पत्र पत्रिकाओं जैसे कि इनके्रडिबल इंडिया, टूडेस ट्रेवेलर, आउट लुक ट्रेवेलर, एशिया स्पा हांगकांग, एक्सन एशिया, टूरिज्म एण्ड वाईल्ड लाईफ, लैण्डस्केप, ट्रेवेलस्पान, फोटोलुक टूरिज्म, एफ.व्ही.एन. इंटरनेशनल, एक्सोटिका आदि में विज्ञापन एवं लेख प्रकाशित किया जाता है। मीडीया प्लान के अंतर्गत विभिन्न सोशल मिडिया जैसे फेसबुक, ट्वीटर, देश की प्रमुख वेब साईट पर विज्ञापन प्रकाशित किये गए। यहाॅं उल्लेखनीय है कि व्यवस्थित प्रचार मिडिया प्लान के तहत द संडे इंडियन एवं एबकस मार्केट रिसर्च संस्था के द्वारा देश में किये गए सर्वे के अनुसार छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल को प्रचार प्रसार कार्यक्रम को देश में चैथा स्थान दिया गया एवं शिमला में आई क्रिएटिव द्वारा आयोजित इंटरनेशनल टूरिज्म काॅनक्लेव एंड टूरिज्म अवार्ड समारोह में Best Marketing Award, इसके अतिरिक्त T.N.H. Tourism Hospitality संस्था द्वारा Travel Award, HTM, चैन्नई में बेस्ट प्रमोशन इन रूरल टूरिज्म एवार्ड, TTF, हैदराबाद में बेस्ट स्टाॅल डेकोरेशन अवार्ड IITM, बैंगलोर में बेस्ट डेस्टीनेशन अवार्ड प्राप्त हुए है।

बिलासपुर में नवीन उच्च न्यायालय भवन का निर्माण कार्य १०६.६ करोड़ रुपये पूर्ण हुआ |

वर्ष 2009 में ही 14 महत्वपूर्ण मार्गो को जिनके लम्बाई 2026.80 किमी है को राज्य मार्ग घोषित किया गया, जिससे कई मुख्य जिला मार्ग तथा ग्रामीण मार्ग है | 242 ग्रामीण मार्ग जिसके लम्बाई 5200.79 किमी को मुख्य जिला मार्ग घोषित किया गया |स्नातक इंजीनियरों को रु. 20 लाख तक के कार्य डिप्लोमा इंजीनियरों को रु. 10 लाख तक के कार्य देने का निर्णय किया गया |

जल संसाधन विभाग के विश्राम गृह जो कि असंचालित थे उन्हें चिन्हित कर 17 विश्राम गृह को पर्यटन मंडल ने पर्यटकों के ठहरने के लिए अधिग्रहित कर उन्नयन किया जा रहा है। आसना में टूरिस्ट कंफर्ट सेंटर मार्ग सुविधा एवं हर्बल रिसॉर्ट का निर्माण कार्य कर संचालन प्रांरभ है। पर्यटन मंडल ने ईको पर्यटन के दृष्टिकोण से 3 स्थानों (चित्रकोट, बारनवापारा एवं आमाडोब) में रिसार्ट प्रांरभ किये गये एवं 5 स्थानों (मानातुता, कबीर चबुतरा, मैनपाट, राजमेरगढ़ एव सरोधा दादर) पर निर्माण किया जा रहा है।

राजिम कुंभ का शुभारंभ - राज्य के त्रिवेणी संगम राजिम जहाँ प्रतिवर्ष माघ पूर्णिमा को पारंपरिक रूप से मेले को राज्य की संस्कृति के विकास एवं पर्यटन को प्रोत्साहित देने हेतु राजिम में शंकराचार्य, महिामंडलेष्वर,मठाधीष, संत-महात्माओं एवं जन प्रतिनिधियों के मार्गदर्षन में कुंभ मेले का आयोजन किया जाता है। यह प्रतिवर्ष आयोजित होने वाले राजिम कुंभ का आठवां वर्ष है।

पर्यटन प्रोत्साहन योजना 2006 का छत्तीसगढ़ राजपत्र में प्रकाशन। 06 इकाईयो (होटल/मोटल/रिसॉर्ट) का संचालन पर्यटन मण्डल द्वारा स्वयं किया जा रहा है एवं 30 इकाईयाँ प्रबधकीय अनुबंध पर संचालन हेतु सौंपी गई है। पुरा विशेष क्षेत्र के विकास प्राधिकरण को परिचालन हेतु प्रदूषण रहित एक इलेक्ट्रावेन वाहन प्रदान किया गया है। राज्य के भीतर जगदलपुर, धमतरी, राजिम, रायपुर रेलवे स्टेशन, रायपुर एयरपोर्ट, चंपारण्य, दुर्ग, सिरपुर, पुरखौती मुक्तांगन, डोंगरगढ़ रेलवे स्टेशन एवं बिलासपुर में रेलवे स्टेशन पर पर्यटन सूचना केन्द्र खोले गये है।

छत्तीसगढ़ पर्यटन के प्रचार-प्रसार हेतु ख्याति प्राप्त पर्यटन से संबंधित पत्र पत्रिकाओं जैसे कि इनके्रडिबल इंडिया, टूडेस ट्रेवेलर, आउट लुक ट्रेवेलर, एशिया स्पा हांगकांग, एक्सन एशिया, टूरिज्म एण्ड वाईल्ड लाईफ, लैण्डस्केप, ट्रेवेलस्पान, फोटोलुक टूरिज्म, एफ.व्ही.एन. इंटरनेशनल, एक्सोटिका आदि में विज्ञापन एवं लेख प्रकाशित किया जाता है। मीडीया प्लान के अंतर्गत विभिन्न सोशल मिडिया जैसे फेसबुक, ट्वीटर, देश की प्रमुख वेब साईट पर विज्ञापन प्रकाशित किये गए। यहाॅं उल्लेखनीय है कि व्यवस्थित प्रचार मिडिया प्लान के तहत द संडे इंडियन एवं एबकस मार्केट रिसर्च संस्था के द्वारा देश में किये गए सर्वे के अनुसार छत्तीसगढ़ पर्यटन मंडल को प्रचार प्रसार कार्यक्रम को देश में चैथा स्थान दिया गया एवं शिमला में आई क्रिएटिव द्वारा आयोजित इंटरनेशनल टूरिज्म काॅनक्लेव एंड टूरिज्म अवार्ड समारोह में Best Marketing Award, इसके अतिरिक्त T.N.H. Tourism Hospitality संस्था द्वारा Travel Award, HTM, चैन्नई में बेस्ट प्रमोशन इन रूरल टूरिज्म एवार्ड, TTF, हैदराबाद में बेस्ट स्टाॅल डेकोरेशन अवार्ड IITM, बैंगलोर में बेस्ट डेस्टीनेशन अवार्ड प्राप्त हुए है।

सिरपुर, पचराही, महेषपुर, मदकूद्वीप आदि महत्वपूर्ण पुरातात्विक केन्द्रों में उत्चानन कराया गया। वर्ष 2012-13 में राजिम, जिला गरियाबंद तथा तरीघाट, जिला दुर्ग के उत्खनन की अनुज्ञप्ति केन्द्र सरकार से प्राप्त हुई तथा 45 तहसीलों और 7 विषय आधारित सर्वेक्षण कराए गए।