featured image

रायपुर/14/11/2017/ मिसाइल मेन डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की फोटो के तरफ इशारा करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने स्कूली बच्चों से कहा पहचानते हो इन्हें ? इस सवाल पर एक बच्चे ने तपाक से कहा यह पूर्व राष्ट्रपति चाचा अब्दुल कलाम है। यह सुनकर बृजमोहन अपनी हंसी रोक नही पाये। क्योकि आज जयंती उनकी थी जिन्हें लोग चाचा नेहरू के नाम से जानते है। परंतु कलाम साहब को उस बालक ने चाचा का संबोधन कर एक नई शुरुआत कर दी थी। यह दृश्य था आरडी तिवारी स्कुल खो खो पारा पुरानी बस्ती का जहा आज रायपुर दक्षिण के विधायक एवं प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल  औचक निरिक्षण करने पहुंचे थे। श्री अग्रवाल स्कूल के सभी कक्षाओं में गये और व्यवस्था का जायजा लिया। पढ़ाई के बारे में बच्चों से पूछताछ की।  उनसे सामान्य ज्ञान के प्रश्न भी पूछे। उन्होंने कक्षा रजिस्टर देखा। कक्षावार बच्चों की हाजिरी चेक की। वे शिक्षकों के कक्ष में भी गये। वहा पर भी उन्होंने रजिस्टर देखा। श्री अग्रवाल ने शाला शिक्षकों से उनकी समस्याओं तथा स्कूल की आवश्यकताओं के बारे में पूछताछ की। 
●बच्चों से की स्वच्छता अभियान की चर्चा।
इस दौरान बृजमोहन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा चालाये जा रहे स्वच्छता अभियान की चर्चा बच्चों से की। उन्होंने सरल शब्दों में अपनी बात रखते हुए कहा कि अपने रायपुर शहर को स्वच्छ और सुन्दर बनाना है तो हमे साफ़ सफाई का ध्यान रखना चाहिए। कचरा सड़क पर न डाले। आप बच्चे चिप्स चॉकलेट खाते है तो उसे भी सड़क या नाली में न फेके। कूड़ादान जहा दीखता है या घर पर कचरा जहा इकट्ठा करते है वहा पर डाले। उन्होंने कहा आज आदत अच्छी रहेगी तो कल का हमारा रायपुर स्वच्छ शहर बनेगा। इसके साथ ही उन्होंने बच्चों से कहा कि खाना खाने के पहले हाथ साबुन से जरूर धोना चाहिए। साथ ही कहा कि ठंड का मौसम आ रहा है। सर्दी जुकाम से बचना है तो  स्वेटर पहने और धूल में न खेले।
●डॉ कलाम को आदर्श मानकर करे पढ़ाई
मिडिल स्कूल के बच्चों से चर्चा करते समय बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि भारत रत्न डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम गरीब परिवार के बेटे थे। स्ट्रीट लाइट में पढ़ कर और पेपर बेच कर उन्होंने अपनी शुरूआती पढ़ाई पूरी की। वे महान वैज्ञानिक थे और वे देश के राष्ट्रपति बनकर सर्वोच्च पद पर आसीन भी हुए। आज उनकी काबिलियत को सारी दुनिया सलाम करती है। आप भी डॉ कलाम साहब को आदर्श मानकर अच्छी पढ़ाई करें और आगे बढ़े। सरकार भी आप बच्चों को आगे बढ़ने में सहयोग करेगी।