featured image

रायपुर, 28 जुलाई 2017/ छत्तीसगढ़ के जल संसाधन मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि देश के हर किसान के खेत में पानी पहुंचाने और उनकी आय को दोगुनी करने के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के सपने को पूरा करने के लिए सभी राज्यों को तत्परता से कार्य करना चाहिए । श्री अग्रवाल आज नई दिल्ली के विज्ञान भवन में जल संसाधन और नदी विकास मंत्रालय द्वारा आयोजित 'जल मंथन' के अवसर पर संबोधित कर रहे थे । जल मंथन की शुरुआत केंद्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती ने की। इस अवसर पर राज्य मंत्री  संजीव बाल्यान और पंजाब के सिचांई मंत्री राणा गुरजीत सिंह भी उपस्थित थे।

श्री अग्रवाल ने कहा की प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना देश में सबसे कम समय में तैयार होकर अमल में लायी जाने वाली योजना है। इसका प्रमुख उद्देश्य जल्द से जल्द देश में सिंचाई का परिदृश्य बदलकर किसानों को उनके खेतों तक पानी पहुंचाना है ताकि वे अपने उत्पादन को दुगुना कर सके । श्री अग्रवाल ने कहा कि इस योजना को तैयार करने में सभी राज्यों ने काफी परिश्रम किया हैं और कई राज्य इसके क्रियावन्यन में भी तेजी से कार्य कर रहे हैं। उन्होंने इसके लिए महाराष्ट्र और ओडिशा की प्रशंसा भी की।

उन्होंने कहा की पीएमकेएसवाय के तहत देश भर में 99 सिंचाई परियोजनाओं को नियत समय में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है और इसके लिए राज्यों को धन राशि भी उपलब्ध करायी जा चुकी है। अब राज्यों की जिम्मेदारी हैं कि वे इसे तत्परता से पूरा करें। राज्यों को अपनी लंबित परियोजनाओं को पूरा करने के लिए इससे बेहतर अवसर दुबारा नही मिलेगा। जल मंथन में सभी राज्यों के जल संसाधन सचिव और वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।