featured image

प्रदेश की धर्मस्व,कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हमारे भारत देश का गौरवशाली इतिहास रहा है। परंतु हमारे संस्कार,श्रेष्ठ परंपराएं व बौद्धिक पूंजी जो हमें विरासत में मिली है उस पर आज की पीढ़ी गौरव का बोध नही कर पा रही है। इसका कारण संस्कारों का क्षरण है। आज आवश्यकता है कि  हम संस्कारों का क्षरण रोके और आने वाली पीढ़ी को अपने भारत के गौरवशाली इतिहास से अवगत कराएं।
उन्होंने यह बात सरदार बलबीर सिंह जुनेजा  इंदौर स्टेडियम में भारत माता की आरती कार्यक्रम के दौरान कही। यह कार्यक्रम छत्तीसगढ़ कृषि स्नातक शासकीय कृषि अधिकारी संघ कि प्रांतीय सम्मेलन एवं सम्मान समारोह के अवसर पर आयोजित था। इस कार्यक्रम के दौरान बाबा सत्यनारायण मौर्य ने राष्ट्रवाद पर अपना व्याख्यान दिया तथा उनके द्वारा ही भारत माता की आरती की गई। आरती में हज़ारों लोग शामिल हुए।
बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हम सौभाग्यशाली हैं जो हमें बाबा सत्यनारायण मौर्य जैसे व्यक्तित्व जिन्होंने अपना सारा जीवन मां भारती के चरणों में समर्पित कर रखा है उन्हें सुनने का अवसर मिला। मौर्य जी ने भारतवर्ष से जुड़ी हुई जो ऐतिहासिक बातें हमे बताई है वह हमे गौरवान्वित करने वाला है। जाति, धर्म, वर्ग भेद से परे राष्ट्रवाद पर चलने की सीख जो उन्होंने दी है निश्चित ही लोग उनके विचारों से प्रभावित हुए है।