featured image

रायपुर/10/06/2018/ छत्तीसगढ़ प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि आज के दौर में मातृ शक्तियों- बेटियों को आत्मरक्षा के गुर जरूर आने चाहिए। छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए यह अच्छी बात है कि यहां के शहरों में विभिन्न शिविरों के माध्यम से उन्हें कराते का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। जिससे वह अपनी सुरक्षा स्वयं करने के लिए सक्षम हो रही है। उन्होंने यह बात छत्तीसगढ़ कराते संघ द्वारा अंतराष्ट्रीय  कराटे खिलाड़ी रहे  अब्दुल सईद खान स्मृति एक दिवसीय राज्य स्तरीय कराते प्रतियोगिता के दौरान मुख्य अतिथि के आसंदी से उपस्थित जनों को संबोधित करते हुए कही।


यह एक दिवसीय यह आयोजन वरुण भवन टिकरापारा में संपन्न हुआ। इन प्रतियोगिता में प्रदेशभर के 175 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया।  इस कराते प्रतियोगिता में बालक- बालिका,महिला -पुरुष वर्ग के खेल हुए। इस दौरान श्री अग्रवाल ने सभी वर्गों के विजेता खिलाड़ियों को पुरस्कृत किया।


अपने संबोधन में श्री अग्रवाल ने कहा कि कराते खेल  एक युद्ध की विधा के साथ-साथ एक बेहतर व्यायाम भी है जिससे शरीर में स्फूर्ति बनी रहती है। कराते सीखना स्वस्थ के लिए भी लाभदायक है। श्री अग्रवाल ने रेफरी विनोद उपाध्याय ,अनीश मनिहार,विजय निषाद, खुर्शीद आलम,  विवेकानंद भट्टाचार्य, कमलेश देसाई, भाविका साहू , पूर्वी साहू को भी सम्मानित किया।


इस अवसर पर श्रम कल्याण मंडल के उपाध्यक्ष सुभाष तिवारी,वरिष्ठ भाजपा नेता ओमप्रकाश पुजारी, जोन अध्यक्ष सालिक सिंह ठाकुर,कराते संघ के प्रदेश अध्यक्ष विजय अग्रवाल,महासचिव अजय साहू, रामकृष्ण धीवर, भाजपा मंडल अध्यक्ष चूड़ामणि निर्मलकर,युवा मोर्चा के जिला मंत्री सजल श्रीवास्तव आदि उपस्थित थे।