featured image

अपर्णा महिला मंडल और टिकरापारा महिला विकास मंच द्वारा आयोजित निःशुल्क तीसरे प्रशिक्षण शिविर में 1500 महिलाओं,युवतियां अब तक तीन अलग अलग शिविरों में  भाग ले चुकी है। 


रायपुर/16/06/2018/ डॉ राधाबाई शासकीय नवीन कन्या महाविद्यालय में आयोजित 14 दिवसीय वृहद निःशुल्क प्रशिक्षण शिविर का आज समापन हुआ। 
यह आयोजन अपर्णा महिला मंडल और टिकरापारा  महिला विकास मंच द्वारा आयोजित था। जिसमे की 1500 महिलाओं ने अब तक तीन अलग अलग शिविर में प्रशिक्षण प्राप्त किया है। इस शविर मे 500 ने 14दिनों तक लिया स्वरोजगार का प्रशिक्षण प्राप्त किया है।


इस समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के आसंदी से उपस्थित महिलाओं को संबोधित करते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि आज के समय में स्वरोजगार का प्रशिक्षण महिलाओं के लिए आवश्यक है। महिलाओं को अपने पैरों पर खड़ा करते हुए उनके परिवार को सहयोग प्रदान करने की दृष्टि से यह प्रशिक्षण निश्चित रूप से सहायक सिद्ध होगा।इतनी बड़ी संख्या में महिलाओं को एकजुट करते हुए उन्हें निःशुल्क प्रशिक्षित करना बड़ी बात तथा प्रेरणादायक है।
बृजमोहन ने कहा कि महिलाएं किसी मामले में कम नही है। पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर वे काम कर रही है। हमारी बेटियां आज शिक्षा,खेल सहित विभिन्न क्षेत्रों में अग्रणी है। नारी अब अबला नही रही वह सबला बन चुकी है।
संनिर्माण कर्मकार मंडल के अध्यक्ष मोहन एंटी ने कहा की हमारी सरकार प्रशिक्षण प्राप्त करने वालों के लिए अनेकों योजनाएं चला रही है। प्रशिक्षित लोगों को काम मुफ्त में साइकिल,सिलाई मशीन आदि प्रदान कर रहे हैं । इच्छुक महिलाएं शासन की योजनाओं का पूरा लाभ लें हम पूर्णता सहयोग के लिए तत्पर हैं। श्रम कल्याण मंडल के उपाध्यक्ष सुभाष तिवारी ने भी इस शिविर की सराहना करते हुए इसे महिलाओं को स्वावलंबी बनाने की दिशा में सराहनीय प्रयास बताया। बाल अधिकार संरक्षण आयोग की पूर्व अध्यक्ष शताब्दी पांडे ने कहा कि पिछले दो दशकों से विभिन्न सामाजिक संगठनों के माध्यम से महिलाओं के लिए रोजगार प्रशिक्षण शिविर सहित विभिन्न रचनात्मक आयोजन में जुड़कर कार्य करने का अवसर मिला है। इसके पीछे मेरी मंशा रही है कि महिलाओं को आगे बढ़ाने उन्हें प्रेरित किया जाए। हमारा मानना है कि महिलाएं सशक्त रहेंगी तो समाज भी सशक्त रहेगा। सशक्त महिला हर परिस्थितियों से लड़ने के लिए सक्षम बने यही मेरा प्रयास रहा है।

इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने सार्थक आयोजन करने वाली समिति की सुधा अवस्थी,रानू धनगर सहित समस्त सदस्यों  सहित 14 दिनों तक महिलाओं को मेहंदी सिलाई,मार्शल आर्ट, ब्यूटी पार्लर, ब्राइडल मेकअप, साड़ी ड्रेपिंग, हेयर स्टाइल, बास के आइटम बनाना, डिजाइनर फ्लावर पॉट आदि सिखाने ली प्रशिक्षक ममता खरवड़े, टामिन साहू, कविता धनगर,मोनिका बृजवानी, विजेता शुक्ला,अंजनी मिर्धा, जया साहू,टिकेश्वरी धनगर, मिट्ठू कर्मकार,निक्की पाल को भी सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर समाजसेवी अनूप वर्मा, विजय अग्रवाल, युवा साहित्यकार अजय किरण अवस्थी,भाजयुमो प्रदेश महामंत्री संजू नारायण सिंह,जिला भाजपा कोषाध्यक्ष योगी अग्रवाल,चूड़ामणि निर्मलकर,सरिता वर्मा,सीमा सिंह,कमलेश शर्मा,अम्बर अग्रवाल,विनोद पाहवा, मनु नायक,मनोज चक्रधारी,आशीष धनगर,उत्तम गुप्ता,  सहित आयोजन समिति की सदस्य 
नंदिनी साहू,पार्वती साहू, मालती धनगर, वेदवती धनगर, सीमा मिश्रा, शशि पांडे, निधि वर्मा, संगीता पचौरी, राजकुमारी सोनी ,दीप्ति सरवैया, गौरी यदु ,किरण देवांगन, जया साहू, पिंकी निर्मलकर, मोनिका बृजवानी, कविता साहू, रेहाना खान,पिंकी कुरैशी, तबस्सुम बानो, मोनिका धनगर, प्रियंका धनगर, अंजलि धनगर,श्रद्धा धनगर, मालती यादव, पूनम कौर आदि उपस्थित थी।


महिलाओं बच्चियों के साथ घट रही घटनाएं मन को व्यथित कर देती है।
इस प्रशिक्षण शिविर में आत्मरक्षा के गुर भी सिखाए गए। जिस पर बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि समाज के बदलते दौर में अब ऐसा लगता है कि हर बेटियों को आत्मरक्षा के गुर सीखने ही चाहिए। महिलाओं बच्चियों के साथ आए दिन घट रही अप्रिय घटनाएं हर सामाजिक व्यक्ति के मन को व्यतीत कर देती है। ऐसे में कराटे मार्शल आर्ट जैसे आत्मरक्षा की तरीके सभी को सीखने आगे आना चाहिए।


कोई जरूरी नही हर कोई नौकरी करें।
बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हमारी सरकार आज कौशल प्रशिक्षण का अभियान चला रही है, जिसमें प्रशिक्षित होकर बेरोजगार युवा-बहन बेहतर रोजगार प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह भी कोई जरूरी नहीं है की हर कोई नौकरी ही करें। अगर आप में हुनर है तो आप भी बेहतर व्यवसायी बन सकते है।