featured image

शहर के संतोषी नगर और पुरानी बस्ती क्षेत्र में आयोजित शहर के विभिन्न स्थानों पर आयोजित महाराजा अग्रसेन जयंती महोत्सव में बतौर मुख्य अतिथि अग्र बंधुओं को संबोधित करते हुए प्रदेश के धर्मस्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि हमारा सौभाग्य है कि अग्रकुल में हमारा जन्म हुआ है। हमारे पूर्वज महाराजा अग्रसेन ने दान करने की जो शिक्षा हमें विरासत में दी है,यही सीख हमारे समाज की समृद्धि का कारक है। आज हम देखते हैं कि बड़े-बड़े विभिन्न तीर्थ स्थानों पर हमारे पूर्वजों ने धर्मशालाएं,बावलिया आदि बनवाई है। निश्चित रूप से यह उनके धर्म परायण होने का प्रमाण है। वे महाराजा अग्रसेन के पद चिन्हों पर चलते हुए आगे बढ़े हैं। हमें भी अपने परिवार और समाज की परंपरा को निष्ठा पूर्वक आगे बढ़ाते हुए सर्व समाज के  विपन्न- जरूरतमंदों कि मदद कर पुण्य का काम करना है। यही हम अगर बंधुओं की जीवन की सार्थकता होगी।
यह महाराज अग्रसेन जयंती महोत्सव, अग्रवाल सभा मोहल्ला समिति संतोषी नगर का पुजारी पार्क एवं पुरानी बस्ती का अश्वनी नगर भवन में आयोजित हुआ।
इन आयोजनों में विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए। जिसमें समाज के बच्चे, युवा,महिलाएं सभी ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम के दौरान श्री अग्रवाल ने समस्त प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया।इस दौरान समाज के वरिष्ठजनों का सम्मान करते हुए बृजमोहन ने उनसे आशीर्वाद प्राप्त किया।
समाज को दिए अपने संबोधन में बृजमोहन ने कहा कि  हमारा समाज धर्म की रक्षा के लिए सदैव आगे रहा है। इसके लिए अपनी संस्कृति और संस्कारों को सहेजने का निरंतर प्रयास समाज के वरिष्ठजनों के मार्गदर्शन में किये जाते है।
इन कार्यक्रमों में अग्रवाल संभा के महामंत्री विजय अग्रवाल,जयंती प्रभारी मनमोहन सिंह,बृजलाल अग्रवाल,सत्यनारायण मित्तल,विनोद अग्रवाल, हरीवल्लभ अग्रवाल कोमल अग्रवाल सुभाष अग्रवाल प्रेम सिंघानिया राम अवतार अग्रवाल आदि कार्यक्रम में शामिल थे।
 
अन्याय के खिलाफ खड़ा होना हमारा धर्म है।
बृजमोहन ने कहा कि आज हम भले ही वैश्य कहलाते हैं। परंतु हमारे पूर्वज महाराजा अग्रसेन क्षत्रिय कुल के थे। अन्याय के विरुद्ध उन्होंने हमेशा ही लड़ाइयां लड़ी। आज हमें भी उनके आदर्शों पर चलते हुए अन्याय अत्याचार से पीड़ित लोगों की मदद के लिए तैयार रहना चाहिये। यही अग्रकुल की परंपरा है।
 
आपके दरवाजे से कोई ना लौटे, जरूरतमंद की मदद करें।
उन्होंने कहा कि दरवाजे पर पहुंचे हर जरूरतमंद को सहयोग करें। यह बात हमेशा ध्यान रखे की माता लक्ष्मी की कृपा हम अग्रवाल समाज के लोगों पर तब तक रहती है जब तक हम मुक्त हस्त से दान पुण्य करते रहते हैं। यही हमारी श्रेष्ठ परंपरा है, जोकि हमें विरासत में मिली है। हमारे पूर्वजों के इसी पुण्य प्रताप की वजह से आज हमारा समाज अग्रणी है। हर क्षेत्र में सफलता के झंडे गाड़ते हुए देश के विकास में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है।