featured image

रायपुर/23/09/2018/ छत्तीसगढ़ प्रदेश के धर्मस्व एवं कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहां की छत्तीसगढ़ और उड़ीसा का रिश्ता अटूट है। यहा लाखों उत्कलवासी छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा में लगे हुए हैं। ये अच्छी बात है कि वे छत्तीसगढ़ में रच-बस गए हो, परंतु अपनी मूल उत्कल संस्कृति व परंपराओं को कायम रखते हुए हर्ष के साथ हर पर्व को छत्तीसगढ़वासियों के साथ मिल-जुलकर मानते आ रहे है। उन्होंने यह बात पंडित दीनदयाल ऑडिटोरियम में उत्कल गांड़ा महासभा छत्तीसगढ़ द्वारा आयोजित नुआखाई महोत्सव के दौरान कही। इस अवसर पर उन्होंने  समाज के मेधावी विद्यार्थियों  को सम्मानित भी किया।

इस दौरान  उपस्थित गांड़ा समाज के लोगों से जुड़ते हुए बृजमोहन ने कहा कि जो समाज अपनी संस्कृति की रक्षा करेगा वह इतिहास के पन्नों पर स्वर्ण अक्षरों से लिखा जाएगा। 
उन्होंने नुआखाई पर्व की बधाई देते हुए कहा कि नई फसल आने क्या यह पर्व सभी के जीवन में खुशहाली लेकर आए। नागरिकों के साथ ही हमारा यह प्रदेश उत्तरोत्तर प्रगति करता रहे। 
मौसम के दौरान महासभा के प्रदेश अध्यक्ष रघुचंद्र निहाल ने श्री अग्रवाल को समाज की ओर से सम्मानित किया। इस अवसर पर महिला प्रकोष्ठ के अध्यक्ष सावित्री जगत,भगवानु नायक वसंत बाग, नारायण बाग,बंटी निहाल, संतोष निहाल,नीरू नायक,गौरव कुमार आदि उपस्थित थे।