featured image

पुरखौती मुक्तांगन और माना तूता छत्तीसगढ़ पर्यटन रिसोर्ट अब नए स्वरुप में नज़र आएगा. मुक्तांगन के कृत्रिम जलप्रपात का स्ट्रकचर पूरी तरह से बदला जा रहा है  वही आपको एक छोटी सी कृत्रिम नदी भी दिखाई देगी साथ ही यहाँ घुमने के लिए कार्ट वाहन की सुविधा भी मुहैया कराये जाने की योजना है | कुछ महीनों में नई साज-सज्जा और रंग-रोंगन के साथ पूरा संपदा से परिपूर्ण छत्तीसगढ़ का अद्भुत स्वरुप पुरखौती मुक्तांगन में देख सकेंगे. इसी तरह माना-तूता रिसोर्ट में भी निर्माण कार्य तेज गति से चल रहा है.यहाँ साईंस पार्क, चिल्ड्रन प्ले एरिया ,साईंस माडल रूम बन कर तैयार हो चूका है.बचे हुए कार्य भी जल्द पूरे होंगे जिसके बाद पर्यटक राजधानी के निकट एक आकर्षक पर्यटन स्थल का आनंद ले सकेंगे.

पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने पुरखौती मुक्तांगन और माना-तूता रिसोर्ट का दौरा किया किया और वहा चल रहे है निर्माण कार्यों की प्रगति का जायजा लिया है.इस दौरान उन्होंने मुक्तांगन के मुख्य द्वार को छत्तीसगढ़ की कलाकृतियों से सजाकर और मजबूत बनाने के निर्देश दिये. अपने निरक्षण के दौरान उन्होंने यहाँ बनने वाले मछलीघर की डीजाईन का अवलोकन किया और अधिकारियों से 10 दिनों के भीतर टेंडर लगाकर कार्य प्रारंभ करने के की बात कही. जलप्रपात के करीब एमफी थियेटर बनाये जाने वाले स्थल का निरक्षण भी किया जहाँ पर 2 हज़ार लोगों के बैठने की व्यवस्था रखी जायेगी.

मुक्तांगन में पारंपरिक नृत्य करती मूर्तियों को सजीव स्वरुप प्रदान करने साज-सज्जा सहित उनके रंग-रोगन पर विशेष ध्यान देने की बात कही और कहा कि बैगा,मुडिया,पंथी नृत्य करती स्वरुप मूर्तियों के करीब आने पर लोक संगीत की धुन सुनाई दे ऐसी व्यवस्था रखी जाए. बच्चों को आकर्षित करने चिल्ड्रन प्ले स्पॉट बेहतर बनाने के सुझाव उन्होंने दिए.पाथ को और मजबूत बनाने के निर्देश दिए.

इसी प्रकार माना- तूता का जायजा लेते हुए उन्होंने सुरक्षा की दृष्ठि से चारों ओर बाउड्री और ऊँची करने की बात कही. यहाँ पर निर्मित साईंस माडल रूम और ओपन थियेटर का निरीक्षण किया. बच्चों को एजुकेट करने बनाये जा रहे साईंस पार्क भी उन्होंने देखा  साथ ही बच्चों के प्ले एरिया में मिनी फार्मूला वन कार रेसिंग ट्रेक का भी अवलोकन किया. इस दौरान उन्होंने कार्य की प्रगति पर संतोष जाहिर किया |